ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी- Useful Information and Facts About Camel in Hindi 2020

आज की पोस्ट बहोत ही मजेदार होने वाली है जिसमे हम बात करने वाले है एक ऐसे दिलचस्प प्राणी की बारेमे जिसके बारेमे शायद आपको बहोत कम जानकरी होगी, उसका नाम ऊंट (Camel) है. और यह Useful Information and Facts About Camel in Hindi सिर्फ उसके बारे मे है. आज इस दिलचस्प प्राणी के बारेमे आप बहोत सारी अनसुनी बाते को जानने वाले है.

Also Read- Useful Information and Facts About Planet Mercury in Hindi 2020 (बुध के बारे मे हिंदी में जानकरी)

ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी – Useful Information About Camel in Hindi

आज हम एक मजेदार प्राणी ऊंट के बारे मे बात करने वाले है जो आपको रेगिस्तान में ज्यादा देखने को मिलता है और यह इंसानो के साथ रहते है, उनके बहोत काम में भी आते है. ऊंट का वैज्ञानिक नाम जीनस केमेलस है जिसकी पीठ पर आपको “कूबड़” जैसा विशिष्ट आकर जो शरीर से काफी ऊपर उभरा हुआ दीखता है.

Also Read- शेर के बारे में जानकारी हिंदी में – About Lion in Hindi, Useful Information and Facts

ऊंट लंबे समय तक जीने वाले एक पालतू पालतू प्राणी हैं और, पशुधन के रूप में, वे भोजन (दूध) और वस्त्र के लिए चमड़ा प्रदान करते हैं। ऊंट जैसे जानवर विशेष रूप से रेगिस्तानी जैसे इलाको में जहा बहोत गर्मी होती है वह रहने के लिए बहोत ही अनुकूल हैं और रेत में कोई भी वजनदार सामान ढ़ोने के लिए एक महत्वपूर्ण साधन हैं। ऊँट की तीन जीवित प्रजातियाँ अभी दुनिया में मौजूद हैं। जिनमे से दुनिया में के बैक्ट्रियन ऊंट की प्रजाति लुप्त होने की कगार पर है.

हिंदी उच्चारण – Hindi Pronunciation

ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी- Useful Information and Facts About Camel in Hindi 3

कैमल जिसमे हिंदी में हम ऊंट कहते है और इसके अलग अलग भाषा में कुछ नाम अपने ऊपर के पेरेग्राफ में देखे। अब सगलिये देखते है की हिंदी में इसे क्या कहते है और इसका सही उच्चारण कैसे करते है.

Camel (कैमल) = ऊंट (Unt)

ऊंट के शरीर का ढांचा – Body Structure of Camel in Hindi

ऊँट की दूसरी प्रजाति की बात करे तो इसको और कही नमो से बुलाया जाता है जैसे की लामा, अल्पाका, गुआनाको और विचुना हलाकि यह दूसरी भाषा में दिए गए नाम है. क्या आपको पता है यह कितने साल जीते है, एक ऊंट की औसतन 40 से 50 वर्ष तक आराम से जीता है। ऊंट कंधे पर जो उबड़ हिस्सा होता है उसकी लमबाई 1.85 मीटर तक होती है और कूबड़ में 2.15 मीटर ऊंचा होता है.

ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी- Useful Information and Facts About Camel in Hindi 4
Here you can find all useful info of Camel in Hindi

ऊंट की सभी प्रजाति में बैक्ट्रियन ऊंट ज्यादा लमबा होता है। कभीभी जरूर पड़ने पर ऊंट 65 किमी / घंटा की रफ्तार से आराम से दौड़ सकते हैं और यह गति लम्बे समय तक बनाए रख सकते हैं। सामान्य तौर पे बैक्ट्रियन ऊंट का वजन 300 से 1,000 KG और ड्रोमेडरीज प्रजाति के ऊंट का वजन 300 से 600 किलोग्राम तक होता है। ऊँट के टंगे एक अलग ही रूप से बानी हुई होती है जिसकी मदत से वह आराम से रेत वाले इलाको में दौड़ सकता है या चल सकता है.

ऊंट के जीवन के बिताने का तरीका- Way of life

ऊंट नर और मादा दोनों को जमीन पर बैठाकर सहवास करते हैं क्यों की उनका शरीर बहोत ही बड़ा होता है, आम तौर पर यह रात में ही यह प्रक्रिया करते है. लेकिन इसका एक अंग है जो रेगिस्तान में बहोत ही काम की चीज है वह है कूबड़। आम तौर पर ऊंट सीधे अपने कूबड़ में पानी जमा नहीं करते। उनके शरीर में एक खास प्रकार की रचना होती है, जिससे ऊंटों को गर्म वातावरण में जीवित रहने में काफी मदद मिलती है।

शरीर के अंग – Important Body Parts of Camel in Hindi

ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी- Useful Information and Facts About Camel in Hindi 2

ऊंट का मोटा कोट इसके शरीर की बेजोड़ रचना है जिसके करना इसको गरम रेगिस्तान जैसे इलाको में रहने में काफी मदत करता है और शरीर गर्मी सहन करने के लिए अनुकूल बनता है. ऊंट की सबसे ज्यादा संख्या विशेषज्ञों के अनुसार सोमालिया में है.

ऊंटों की शारीरिक अनुकूलन की एक श्रृंखला होती है जो उन्हें बिना पानी के किसी भी बाहरी वातावरण में लंबे समय तक झेलने में मदत करता है। ड्रोमेडरी ऊंट बहुत ही गर्म वातावरण में भी हर 10 दिनों में एक बार ही पानी पिता है, और जब पानी मिलता है तब वह बड़ी मात्रा में पानी पि लेता है विशेषज्ञों के अनुसार यह प्राणी 100 लीटर से ज्यादा पानी पि सकता है.

ऊंट शरीर के तापमान दिनमे 34° C और रात में ४०° C सामान्य तौर पर हो जाता है, दूसरे जानवर की तुलना में इनका शरीर बहोत ही कम पानी की खपत करता है जिससे तह बिना पानी पिए कुछ दिन गुजर सकते है. बहोत ही ज्यादा तापमान बढ़ने पर उनकी त्वचा के ऊपर पसीना बहता है जो उनके शरीर को फिरसे ठंडा करता है और उसके कारन उनका वजन 25 पर्सेंट तक कम हो सकता है.

ऊंट के शावक- Camel Cubs (baby Camel)

शायद आपको पता नहीं होगा पर ऊंट हमेशा रात को प्रजनन क्रिया करते है और यह बैठ कर करते है क्यों की दूसरे छोटे प्राणियों के मुकाबले इनके शरीर की उचाई बहोत ही ज्यादा होती है. यह एक रात में चार बार तक प्रजनन किया कर लेते है. बेबी ऊंट जब पैदा होते हैं तब उनके शरीर कूबड़ नहीं होता। और दूसरे प्राणी की जैसे ही यह भी अपने जन्म के कुछ घंटों के बाद चलने में सक्षम होजाते हैं। बचे कही सालो तक अपनी माँ के साथ गुजारते है जबतक की वह बड़े न होजाये.

ऊंट पर 10 लाइन का निबंध – 10 line Essay on Camel

  • ऊंट आपको रेगिस्तान में ज्यादा देखने को मिलता है
  • यह रेगिस्तान में लंबे समय तक जीने वाले एक पालतू पालतू प्राणी हैं और, पशुधन के रूप में, वे भोजन (दूध) और वस्त्र के लिए चमड़ा प्रदान करते हैं.
  • वैज्ञानिक नाम जीनस केमेलस है.
  • इसकी पीठ पर आपको “कूबड़” जैसा विशिष्ट आकर देखने को मिलता है जबकि उनका जन्म होता है तब वह नहीं होता
  • उसकी लमबाई 1.85 मीटर तक होती है और कूबड़ में 2.15 मीटर ऊंचा होता है.
  • औसतन 40 से 50 वर्ष तक आराम से जीता है
  • सामान्य तौर पे बैक्ट्रियन ऊंट का वजन 300 से 1,000 KG और ड्रोमेडरीज प्रजाति के ऊंट का वजन 300 से 600 किलोग्राम तक होता है.
  • कभीभी जरूर पड़ने पर ऊंट 65 किमी / घंटा की रफ्तार से आराम से दौड़ सकते हैं और यह गति लम्बे समय तक बनाए रख सकते हैं
  • ऊंट शरीर के तापमान दिनमे 34° C और रात में ४०° C सामान्य तौर पर हो जाता है.
  • ड्रोमेडरी ऊंट बहुत ही गर्म वातावरण में भी हर 10 दिनों में एक बार ही पानी पिता है, और जब पानी मिलता है तब वह बड़ी मात्रा में पानी पि लेता है विशेषज्ञों के अनुसार यह प्राणी 100 लीटर से ज्यादा पानी पि सकता है.

Short Poem on Camel in Hindi- ऊंट पर छोटी सी कविता

ऊंट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी- Useful Information and Facts About Camel in Hindi 1

आज जा रहे है राजस्थान, सोचो वह क्या देखा
बड़ा लम्बा प्राणी जिसकी शकल मासूम।
दूसरे जानवर से कर रहा वह बात,
ऊंट द्वारा हो रही सबकी बुराई।
बिली तुम्हारे नाख़ून टेड़े तो कुत्ते की पूछ टेढ़ी,
हाथी की सूंढ़ टेडी तो चिड़िया की चोंच टेडी।
तब आये वह तोते भाई और किया बोलना शरू.
अन्य प्राणी के तो एक अंग टेढ़े,
पर ऊंट तुम्हारे अस्सी टेढ़े.

ऊंट के बारे में कुछ अनसुने तथ्य – Interesting Facts About Camel in Hindi

  • यह 10 दिन या शायद उससे ज्यादा रेगिस्तान में बिना पानी पिए गुजार सकते है.
  • यह मुख्या तौर पर मिडल ईस्ट, एशिया में ज्यादा पाए जाते है
  • ऊंट की सबसे ज्यादा संख्या विशेषज्ञों के अनुसार सोमालिया में है.
  • यह प्राणी एक ऐसा प्राणी है जो खड़े होकर भी सो सकता है
  • कूबड़ की वजह से यह प्राणी लम्बे समय तक रेगिस्तान में जिन्दा रहता है
  • पेरो की अलग रचना की वजह से यह रेगिस्तान में 60 K/H की गति से दौड़ सकते है
  • दूसरे रेगिस्तानी जानवरो के मुकाबले इनमे पानी की खपत बहोत ही कम होती है जिससे यह पानी के बिना ज्यादा समय बिताते है.
  • पानी पिने को मिलता है तब शायद यह प्राणी 100 लीटर से ज्यादा पानी पि सकता है
  • इसका नाम एक अरबी भाषा में है
  • इनके शरीर के दिन का और रात के तापमान का काफी बदलाव होता है जो अपने ऊपर पढ़ा
  • रेगिस्तानी मिडल ईस्ट इलाको में ऊँटो की रेस बहोत ही लोकप्रिय है
  • यह अपने शरीर के २५% से ज्यादा वजन के हिस्से का पानी एक साथ पि सकते है
  • इनकी आँखों की रचना बहोत ही खास होती है जिससे यह रेतीले तूफान से बच सकते है
  • ऊंट के दैनिक क्रियाओ में कम से कम पानी व्यर्थ जाता है
  • इंसान की तरह यह प्राणी भी एक समय पे मुख्या तौर पर एक ही बचा पैदा करता है.

Video

Summery

हमें विश्वाश है की आपको “ऊंट के बारे में कुछ मजेदार जानकारी – Useful Information and Facts About Camel in Hindi” आर्टिकल पढ़ कर बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा। ऐसी ही मजेदार जानकारी के लिए हमारे इस वेबसाइट को जरूर विजिट करते रहिये और हमें सोशल मीडिया पे फॉलो करना बिलकुल मत भूलिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *